उफ्फ..सीएसके की वापसी की खुशी में यह क्या कह गए आर अश्विन ! ट्विटर पर हुई जमकर खिंचाई - .

Breaking

Wednesday, 19 July 2017

उफ्फ..सीएसके की वापसी की खुशी में यह क्या कह गए आर अश्विन ! ट्विटर पर हुई जमकर खिंचाई

उफ्फ..सीएसके की वापसी की खुशी में यह क्या कह गए आर अश्विन ! ट्विटर पर हुई जमकर खिंचाई 

मैच फिक्सिंग विवाद में फंसने के कारण दो साल तक की पाबंदी झेल कर चेन्नई सुपरकिंग्स की वापसी हो रही है. सीएसके के तमाम समर्थकों के साथ-साथ उसके खिलाड़ी भी इसकी खुशी का इजहार कर रहे हैं. यहां तक कि एमएस धोनी ने ट्विटर पर सीएसके की टी शर्ट के साथ अपनी तस्वीर पोस्ट करके इसका स्वागत किया है.
लेकिन सीएस की वापसी से खुश गेंदबाज आर अश्विन ने एक ऐसी बात कह दी जिससे वह सोशल मीडिया में बुरी तरह घिर गए. दरअसल, आर अश्विन ने चेन्नई सुपरकिंग्स की आईपीएल में वापसी की तुलना फुटबॉल क्लब मैनचेस्टर यूनाईटेड के खिलाड़ियों के साथ म्यूनिख में हुई हवाई दुर्घटना के साथ कर दी. अश्विन ने एक इंटरव्यू में कहा, 'आईपीएल में दो साल का गैप सीएसके की वैल्यू में इजाफा करेगा, ठीक वैसे ही जैसे प्लेन क्रैश के बाद मैनचेस्टर यूनाईटेड के साथ हुआ था.'
अश्विन के इस बयान को लेकर सोशल मीडिया पर उनकी खूब खिंचाई हुई। खासकर मैनचेस्टर यूनाईटेड के समर्थकों ने अश्विन को जमकर ट्रोल किया, आपको बता दें कि 6 फरवरी, 1958 को हुए प्लेन क्रैश में मैनचेस्टर यूनाईटेड के आठ खिलाडियों और तीन स्टाफ मेंबर्स की मौत हो गई थी. इसके बाद अश्विन ने ट्वीट कर सफाई देते हुए कहा कि उनके बयान को गलत तरीके से समझा  गया.
साल 1958 में हुई इस दुर्घटना के बाद मैनचेस्टर यूनाईटेड को लोकल खिलाड़ियों के साथ पूरा सत्र खेलना पड़ा था. इस दुर्घटना में मैनचेस्टर यूनाईटेड के मैनेजर मैट बस्बी और क्लब के स्टार फुटबॉलर बॉबी कॉर्लटन बच गए थे.

बीसीसीआई ने खारिज की शास्त्री की मांग, सचिन नहीं होंगे टीम इंडिया के सलाहकार

टीम इंडिया के नए कोच रवि शास्त्री ने भले ही सचिन तेंदुलकर को भारतीय टीम का बैटिंग कंसलटेंट बनाने की सिफारिश की हो लेकिन बोर्ड ने राहुल द्रविड़ को ही इस भूमिका के लिए चुनने का मन बना लिया है. दरअसल सचिन के खिलाफ हितों के टकराव का मामला है जिसे किसी और ने नहीं बल्कि सुप्रीम कोर्ट की बनाई प्रशासकों की समिति यानी सीओए की सदस्य डायना एडुलजी ने उठाया है.
मंगलवार को बोर्ड की बनाई स्पेशल कमेटी की मीटिंग में शास्त्री ने विदेश दौरों पर सचिन को भारतीय टीम का बैटिंग कंसलटेंट बनाने की बता रखी थी. शास्त्री के इस सुझाव को सीओए की सदस्य और इस कमेटी में मौजूद पूर्व महिला क्रिकेटर डायना एडुलजी ने खारिज कर दिया. समाचार पत्र द टेलीग्राफ के मुताबिक डायना एडुलजी ने कहा कि सचिन को अगर टीम इंडिया के साथ जोड़ा जाता है तो इसमें हितों के टकराव का मसला उठेगा. सचिन इस वक्त आईपीएल की टीम मुंबई इंडियंस के आइकन  हैं और स्पोर्ट्स चैनल सोनी के साथ भी उनका करार है. ऐसे में शॉर्ट टर्म के लिए टीम इंडिया के साथ जुड़ने के लिए सचिन अपनी इन जिम्मेदारियों को नहीं छोड़ सकते.
साथ डायना ने यह भी कहा कि भारतीय क्रिकेट में हितों के टकराव को किसी भी स्तर पर मंजूर नहीं कियी जा सकता. सीओए के इस रुख के बाद बात अब एक बार फिर से राहुल द्रविड़ पर आके टिक गई है. बोर्ड के सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक  इस साल के आखिर में शुरू हो रहे साउथ अफ्रीका के मुश्किल दौरे के लिए द्रविड़ की सेवाएं ली जा सकती हैं.

 



No comments:

Post a Comment

Pages