[Latest News][6]

गैलरी
देश
राजनीति
राज्य
विदेश
व्यापार
स्पोर्ट्स
स्वास्थ्य

एमसीडी चुनाव के लिए आज मतदान


नई दिल्ली: दिल्ली नगर निगम (एमसीडी) चुनाव के लिए आज मतदान होगा. दस साल से एमसीडी पर काबिज़ बीजेपी और दो साल से दिल्ली सरकार पर काबिज़ आम आदमी पार्टी निगम चुनाव के लिए अपनी पूरी ताक़त झोंक चुकी है. वहीं, कांग्रेस भी कई झटकों के बाद अपनी ज़मीन तलाशने में जुटी है. मतदान से लेकर 26 अप्रैल को मतगणना होने तक, संपूर्ण चुनाव प्रक्रिया में सुरक्षा की जिम्मेदारी दिल्ली पुलिस और अर्धसैनिक बलों के 56 हजार जवानों के हाथों में होगी.
दिल्ली नगर निगम चुनाव में कुल 272 सीटों के लिए 1 करोड़ 32 लाख 206 मतदाताओं के लिए 13,022 बूथ बनाए गए हैं. उत्तरी दिल्ली नगर निगम में 1,004 उम्मीदवार हैं. दक्षिणी दिल्ली नगर निगम में 985 और पूर्वी दिल्ली नगर निगम में 548 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला होना है. इस बार निगम चुनाव में पहली बार नोटा का प्रयोग किया जा रहा है. निगम चुनाव को पारदर्शी तरीके से कराने के लिए करीब 56 हजार दिल्ली पुलिस, 40 कंपनियां पैरामिलिट्री और 20 हजार होमगार्डस को भी तैनात किया गया है. बूथ के अंदर मतदाताओं को मोबाइल फोन ले जाने की इजाजत नहीं होगी. निगम चुनाव के मद्देनजर मेट्रो ट्रेन सुबह 4 बजे से चलनी शुरू हो जाएगी. जबकि दिल्ली से लगी सीमा को भी रात से सील कर दिया गया. 26 अप्रैल को निगम चुनाव की मतगणना होगी. इस बार के निगम चुनावों में आम आदमी पार्टी और स्वराज इंडिया पार्टी पहली बार चुनाव लड़ रही हैं. निगम के चुनाव में कुल सीटों में 40 फीसदी महिला उम्मीदवारों के लिए आरक्षित हैं. दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता दीपेंद्र पाठक ने शनिवार को सुरक्षा इंतजामों की जानकारी देते हुए बताया कि राज्य चुनाव आयोग ने निगम चुनाव में 774 स्थानों पर 4,748 मतदान केन्द्रों को संवेदनशील और अतिसंवेदनशील घोषित किया है. इसके मद्देनजर सुरक्षा एजेंसियों के साथ तालमेल कायम करते हुए दिल्ली पुलिस ने आतंकरोधी गतिविधियों को नाकाम करने सहित सभी जरूरी सुरक्षा इंतजाम किए हैं. पाठक ने बताया कि सुरक्षा इंतजामों के दायरे में सभी 13,022 मतदान केंद्रों को शामिल किया गया है. इन पर दिल्ली पुलिस और केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (सीएपीएफ) के 56,256 जवान तैनात रहेंगे. इसमें सीएपीएफ की 40 कंपनियां और होमगार्ड के 20 हजार जवान भी शामिल हैं. उन्होंने बताया कि कुल 13,022 मतदान केन्द्रों में से 3,284 को संवेदनशील और 1,468 को अतिसंवेदनशील घोषित किया गया है.. जबकि मतदान केन्द्रों के आसपास 573 परिसरों को संवेदनशील और 197 को अतिसंवेदनशील परिसर के रूप में चिन्हित किया गया है. सबसे ज्यादा 585 संवेदनशील मतदान केन्द्र दक्षिणी दिल्ली में है. जबकि शाहदरा जिले में सर्वाधिक 114 संवेदनशील मतदान केंन्द्र चिन्हित किए गए हैं. अतिसंवेदनशील क्षेत्रों में तुगलकाबाद, जामिया नगर, संगम विहार, सीमापुरी, सीलमपुर, आदर्शनगर, भारत नगर, करोल बाग, चांदनी महल, नजफगढ़, मुंडका, संल्तानपुरी और नांगलोई के कुछ मतदान केन्द्रों को शामिल किया गया है. साभार ndtv

About Author saloni

i am proffesniol blogger

No comments:

Post a Comment

Start typing and press Enter to search