[Latest News][6]

गैलरी
देश
राजनीति
राज्य
विदेश
व्यापार
स्पोर्ट्स
स्वास्थ्य

प्रदेश में अब अवैध शराब की बिक्री नहीं


सागर: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सागर जिले की सुरखी विधानसभा के ग्राम बिलहरा में लगभग 115 करोड़ की लागत की परकुल मध्यम सिंचाई परियोजना का भूमि-पूजन किया। परियोजना से 3 हजार 200 हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई होगी और 19 ग्राम लाभान्वित होंगे। इस अवसर पर जिला स्तरीय मुख्यमंत्री स्वच्छता सम्मान समारोह, जिला स्तरीय कृषि विज्ञान मेला, जल अभिषेक, हितग्राही सम्मेलन एवं अंत्योदय मेला का आयोजन भी किया गया।
मुख्यमंत्री ने जिले के जैसीनगर विकासखंड को खुले में शौच मुक्त घोषित किया। मुख्यमंत्री ने परकुल सिंचाई परियोजना सहित यहाँ लगभग 500 करोड़ रूपये लागत के विकास कार्यों का भूमि-पूजन एवं लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री ने जैसीनगर को तहसील बनाने, राहतगढ़ में आई.टी.आई. खोलने, 20 हजार की आबादी शामिल होने पर बिलहरा को नगर पंचायत बनाने, क्षेत्र में 26 सड़कों की स्वीकृति और बिलहरा में मंगल भवन बनवाने सहित अन्य घोषणाएँ की. मुख्यमंत्री ने परकुल मध्यम सिंचाई परियोजना में डूब क्षेत्र में आने वाले कृषकों को बढ़ी हुई दर से मुआवजा राशि दिलाये जाने का आश्वासन दिया है। मुख्यमंत्री ने गत 18 अप्रैल को भोपाल में ग्राम बक्स्वाहा के कृषक प्रतिनिधि-मंडल से मुलाकात के दौरान उन्हें बढ़ी हुई दर से मुआवजा राशि दिलाने के लिये नियमानुसार कार्यवाही करने का भरोसा दिलाया। चौहान ने कहा कि प्रदेश में अब अवैध शराब की बिक्री नहीं होगी। उन्होंने ग्रामोदय अभियान में मेहनत एवं ईमानदारी से कार्य करने की अपील की। उन्होंने हड़ताल कर रहे कर्मचारियों से काम पर वापस आने का आव्हान किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि बुन्देलखंड में सिंचाई की कमी नहीं रहने दी जायेगी। किसानों के लिए सरकार द्वारा कोई कमी नहीं रहने दी जायेगी। उन्होंने कहा कि अब किसानों को एक लाख के ऋण लेने पर 90 हजार ही वापस करना होंगे। किसानों को राहत राशि बाँटने में सरकार ने कोई कमी नहीं छोड़ी है। सरकार ने निर्णय लिया है कि महुआ का फूल प्रदेश में 30 रूपये प्रति किलो से कम कीमत में नहीं बेचा जायेगा। तेंदूपत्ता तोड़ने वाले पुरूषों को जूते और महिलाओं को चप्पल प्रदान की जायेंगी। उन्होंने कहा कि पढ़ाई, लिखाई एवं रोजगार का इंतजाम हर गरीब व्यक्ति के लिए किया जायेगा। प्रदेश की धरती पर किसी गरीब को भूखा नहीं सोने दिया जायेगा। प्रदेश में एक रूपये किलो गेहूँ, चावल एवं नमक प्रदान किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि गरीबों को दीनदयाल रसोई योजना में 5 रूपये में थाली परोसी जा रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के सभी गरीब व्यक्तियों को रहने के लिए जमीन का पट्टा दिया जायेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि 12वीं कक्षा में 75 प्रतिशत से अधिक अंक लाने वाले गरीब बच्चों के मेडिकल, इंजीनियरिंग कॉलेज में प्रवेश लेने पर सरकार द्वारा फीस भरी जायेगी। शिक्षकों की भर्ती में महिलाओं के लिये 50 प्रतिशत आरक्षण का प्रावधान किया गया है। उन्होंने कहा कि विधानसभा के मानसून सत्र में दुराचारियों का फाँसी का कानून बनाकर राष्ट्रपति को भेजा जायेगा। इस अवसर पर पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री गोपाल भार्गव, गृह एवं परिवहन मंत्री भूपेन्द्र सिंह, सांसद लक्ष्मीनारायण यादव, विधायक शैलेन्द्र जैन, प्रदीप लारिया, हरवंश सिंह राठौर सहित अन्य जन-प्रतिनिधि मौजूद थे।

About Author saloni

i am proffesniol blogger

No comments:

Post a Comment

Start typing and press Enter to search