[Latest News][6]

गैलरी
देश
राजनीति
राज्य
विदेश
व्यापार
स्पोर्ट्स
स्वास्थ्य

शिवराज आधुनिक भागीरथ: शाह


जबलपुर: नर्मदा सेवा यात्रा के 120वें दिन जबलपुर के ग्वारीघाट में जन-संवाद कार्यक्रम का भव्य आयोजन हुआ। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि माँ नर्मदा के संरक्षण के लिए राज्य सरकार हरसंभव प्रयास करेगी। दो जुलाई को लाखों लोग करोड़ों वृक्षों का रोपण नर्मदा के किनारे करेंगे। उन्होंने कहा कि हमने बेतवा, क्षिप्रा और ताप्ती नदी को धार तोड़ते देखा है। यदि आप चाहते हैं कि नर्मदा की धार न टूटे तो किसी पर भरोसा मत करें आगे बढ़ें और इस यात्रा को जन आंदोलन बनाते हुए सम्पूर्ण विश्व में जनभागीदारी से किसी नदी के संरक्षण के लिए चलाया जाने वाला सबसे बड़ा अभियान बनाएं। साथ ही नर्मदा को अविरल बनाने के लिए 2 जुलाई को पौधों का रोपण अनिवार्यत: करें।
जनसंवाद में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को आधुनिक भागीरथ की संज्ञा दी। उन्होंने कहा कि माँ नर्मदा जीवनदायिनी तो है ही लेकिन इसके साथ ही मोक्षदायिनी भी है। नमामि देवि नर्मदे – नर्मदा सेवा यात्रा में शाह ने उपस्थित जन-मानस से नर्मदा के संरक्षण में सक्रिय सहभागिता निभाने का आव्हान किया। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने बताया कि पदम पुराण, मत्स्य पुराण में माँ नर्मदा की गौरवगाथा का बखान है। जहां अन्य नदियों में स्नान करने से पुण्य की प्राप्ति होती है वहीं माँ नर्मदा के तो दर्शन मात्र से पाप का नाश हो जाता है। माँ नर्मदा का महत्व बताते हुए शाह ने कहा कि सनातन धर्म के इतिहास में भी इसका गौरवशाली उल्लेख है, क्योंकि कुछ कारण तो रहा होगा सनातन धर्म पर संकट आने पर आदिगुरू शंकराचार्य ने भी नर्मदा के किनारे ही धर्मावलम्बियों को एकत्रित कर आगे ले जाने का प्रयास किया। माँ नर्मदा के संरक्षण के लिए प्रारंभ की गई नर्मदा सेवा यात्रा की मुक्त कण्ठ से सराहना करते हुए अमित शाह ने इसके सफल होने की कामना की। उन्होंने कहा कि इसके सफल होने से जहां मध्यप्रदेश, गुजरात, राजस्थान, महाराष्ट्र की जनता को लाभ होगा वहीं सम्पूर्ण देश की संस्कृति और धर्म को पुनर्जीवित करने की दिशा में यह सार्थक प्रयास साबित होगी। शाह ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा अपने उद्बोधन में नर्मदा शुद्धिकरण के लिए बताए गए प्रयासों का सार्थक रूप से जमीनी स्तर पर क्रियान्वयन कराने की बात कही। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में चौहान लंदन की टेम्स और चीन की ली नदी की तरह नर्मदा को भी शुद्ध नदियों की सूची में शामिल करवाने की दिशा में कार्य करें। शाह ने गंगा नदी के संरक्षण व संवर्धन के लिए चलाए जा रहे नमामि गंगे अभियान की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि इस अभियान की तरह ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मार्गदर्शन में उप्र के मुख्यमंत्री भी माँ गंगा के शुद्धिकरण के लिए तेजी से कार्य करेंगे।

About Author saloni

i am proffesniol blogger

No comments:

Post a Comment

Start typing and press Enter to search