नोटबंदी के बाद से देश में अरबपतियों की संख्या घटी - .

Breaking

Wednesday, 8 March 2017

नोटबंदी के बाद से देश में अरबपतियों की संख्या घटी


मुंबई: पिछले साल नवंबर में बड़े मूल्य के नोट बंद किए जाने के बाद से देश में अरबपतियों की संख्या में 11 की कमी आई है. हालांकि, इस दौरान देश में अरबपतियों की कुल संपदा में उल्लेखनीय इजाफा हुआ है. मुकेश अंबानी 26 अरब डालर की संपदा के साथ सबसे अमीर व्यक्ति बने हुए हैं.
मंगलवार को जारी एक अध्ययन में यह आंकड़ा सामने आया है. हुरन ग्लोबल रिच लिस्ट इंडिया के अध्ययन में कहा गया है कि भारत में 132 अरबपति हैं, जिनकी कुल संपदा एक अरब डालर या अधिक है. कुल मिलाकर भारत में अरबपतियों की कुल संपत्ति 392 अरब डॉलर आंकी गई है. रिपोर्ट में कहा गया है कि नोटबंदी के बाद हालांकि देश में अरबपतियों की संख्या में कमी आई है लेकिन उनकी कुल संपत्ति पिछले साल की तुलना में 16 प्रतिशत बढ़ी है. शीर्ष दस सबसे अमीर लोगों की सूची में अंबानी के बाद 14 अरब डॉलर की संपदा के साथ एसपी हिंदुजा और परिवार दूसरे स्थान पर है. 14 अरब डॉलर की संपत्ति के साथ दिलीप सांघवी तीसरे स्थान पर हैं. रिपोर्ट में कहा गया है कि पिछले साल आठ नवंबर को नोटबंदी के बाद देश में अरबपतियों की संख्या में 11 की कमी आई है. मुंबई में 42, दिल्ली में 21 और अहमदाबाद में 9 अरबपति हैं. मुंबई सहित महाराष्ट्र में कुल मिला कर 51 अरबपति हैं.अन्य लोगों में 12 अरब डॉलर की संपदा के साथ पल्लोनजी मिस्त्री चौथे, लक्ष्मी निवास मित्तल पांचवे (12 अरब डॉलर), शिव नादर छठे (12 अरब डॉलर), साइरस पूनावाला सातवें (11 अरब डॉलर), अजीम प्रेमजी आठवें (9.7 अरब डॉलर), उदय कोटक नौवें (7.2 अरब डॉलर) और डेविड रबेन और साइमन रबेन दसवें (6.7 अरब डॉलर) स्थान पर हैं.

No comments:

Post a Comment

Pages