[Latest News][6]

गैलरी
देश
राजनीति
राज्य
विदेश
व्यापार
स्पोर्ट्स
स्वास्थ्य

सानिया ने कहा मैंने धोखाधड़ी नहीं की


हैदराबाद: भारत की महिला टेनिस स्टार सानिया मिर्जा सेवा कर का कथित तौर पर भुगतान नहीं करने के मामले में किसी भी तरह की धोखाधड़ी से इनकार किया है. इस मामले में अपना पक्ष रखने के लिए सानिया को 16 फरवरी को तलब किया गया था. छह फरवरी को जारी किए गए समन को लेकर कल सानिया का चार्टर्ड एकाउंटेंट उनकी ओर से सेवा कर अधिकारियों के समक्ष पेश हुआ क्योंकि यह स्टार खिलाड़ी विदेश में है.सानिया ने कहा कि तेलंगाना सरकार ने उन्हें जो एक करोड़ रुपये दिए थे, वह ट्रेनिंग के लिए प्रोत्साहन राशि है. आधिकारिक सूत्रों ने बताया, ‘सानिया मिर्जा के प्रतिनिधि ने सेवा कर अधिकारियों के समक्ष कुछ दस्तावेज जमा कराए और कहा कि तेलंगाना सरकार से उन्हें जो एक करोड़ रुपये मिले हैं, वह ट्रेनिंग के लिए प्रोत्साहन राशि थी. यह राशि राज्य का ब्रांड दूत बनने के लिए नहीं थी.’
गौरतलब है कि 30 साल की सानिया मिर्जा महिला डबल्स में नंबर वन खिलाड़ी रह चुकी हैं. वे अब तक छह ग्रैंडस्लैम जीत चुकी हैं, इसमें महिला डबल्स वर्ग के तीन और मिक्सड डबल्स के तीन खिताब शामिल हैं. स्विट्जरलैंड की मार्टिना हिंगिस के साथ महिला डबल्स वर्ग में कामयाब जोड़ी बनाकर वे कई खिताब अपने नाम कर चुकी हैं. सानिया को प्रतिष्ठित अर्जुन अवार्ड के अलावा पद्मश्री और पद्मविभूषण से भी नवाजा जा चुका है. सानिया मिर्जा की आत्मकथा ‘एस अगेन्स्ट ऑड्स’ पिछले साल बाजार में आई थी, इसमें उन्होंने टेनिस कोर्ट के भीतर और बाहर के अपने संघर्षों को बयान किया है. उन्होंने बताया है कि उनकी ज़िन्दगी में किस तरह के उतार-चढ़ाव आए और उन्होंने इनसे कैसे पार पाया. पिता इमरान मिर्जा की मदद से लिखी इस आत्मकथा की प्रस्तावना उनकी जोड़ीदार रह चुकीं मार्टिना हिंगिस ने लिखी है, जिन्होंने सानिया को ‘खतरनाक फोरहैंड वाली बेहतरीन खिलाड़ी’ बताया है. भारत के एक और टेनिस स्टार और मिश्रित युगल में उनके जोड़ीदार रहे महेश भूपति का मानना है कि भारतीय खेलों का चेहरा बदलने में सानिया मिर्जा का अहम योगदान है.

About Author saloni

i am proffesniol blogger

No comments:

Post a Comment

Start typing and press Enter to search