[Latest News][6]

गैलरी
देश
राजनीति
राज्य
विदेश
व्यापार
स्पोर्ट्स
स्वास्थ्य

CM ने उज्जैन में बाल हृदय उपचार एवं कॉक्लियर इम्प्लांट से लाभान्वित बच्चों से मिलकर बाँटी खुशियाँ


भोपाल: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश का कोई भी गरीब इलाज से वंचित नहीं रहेगा। पूरे प्रदेश में चिकित्सा शिविर लगाये जा रहे हैं। इन शिविरों में बाल हृदय रोगियों, श्रवण-बाधितों को कॉक्लियर इम्प्लांट, कैंसर और किडनी रोग के मरीजों की पहचान कर उनका नि:शुल्क उपचार किया जायेगा। मुख्यमंत्री ने उज्जैन में पुलिस कम्युनिटी हॉल में जिले के रोगमुक्त हुए बाल हृदय रोगी बच्चों एवं कॉक्लियर इम्प्लांट से लाभान्वित श्रवण-बाधित बच्चों से मिलकर उनकी खुशियों में हिस्सा लिया। मुख्यमंत्री ने बालक मयंक व्यास का जन्म-दिन मनाया तथा केक काटकर सभी बच्चों को उज्ज्वल भविष्य की शुभकामनाएँ दी।
चौहान ने कहा कि रोगमुक्त हुए बच्चों से मिलकर उन्हें आत्मिक संतुष्टि हो रही है। उन्होंने जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग को मुख्यमंत्री बाल हृदय योजना में बड़ी संख्या में नि:शुल्क ऑपरेशन करवाने पर बधाई दी। मुख्यमंत्री ने ऐसे बच्चों, जो जीवन में कभी सुन नहीं पाते, को 6 लाख 50 हजार रूपये की लागत के कॉक्लियर इम्प्लांट कर उनको सुनने योग्य बनाने पर भी बधाई देते हुए कहा कि इस तरह के और बच्चों को चिन्हित करने की आवश्यकता है। मुख्यमंत्री ने इन सभी बच्चों को जीवन में आगे बढ़ने की शुभकामनाएँ दी। मुख्यमंत्री ने श्रवण-बाधित बच्चों को श्रवण यंत्र भी वितरित किये। मुख्यमंत्री बाल हृदय योजना में जिले में अब तक 51 बच्चों का सफल ऑपरेशन किया गया है। चौहान ने इन ऑपरेशनों पर आधारित सफलता की कहानी पुस्तक का विमोचन किया। मुख्यमंत्री ने हाल ही में मुख्यमंत्री कन्या विवाह-निकाह योजना में निकाह करने वाले नव-दम्पत्ति शाइना बी एवं इरफान को आशीर्वाद दिया एवं उपहार भेंट किये। उल्लेखनीय है कि शाइना बी का निकाह मुख्यमंत्री के निर्देश पर विगत दिसम्बर माह में धूमधाम से किया गया था। संवाद-शुभाशीष कार्यक्रम में बाल हृदय उपचार योजना से लाभान्वित 51 बच्चों, कॉक्लियर इम्प्लांट करवा चुके 05 बच्चों तथा श्रवण-बाधित 37 बच्चों को खिलौने भेंट किये गये। खिलौने और उपहार रोटरी क्लब द्वारा प्रदान किये गये थे। मुख्यमंत्री बाल हृदय योजना में 51 बच्चों के हृदय के ऑपरेशन पर 68 लाख 20 हजार रूपये तथा 05 बच्चों के कॉक्लियर इम्प्लांट करने पर 32 लाख 50 हजार रूपये का व्यय जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा किया गया है। कॉक्लियर इम्प्लांट पर प्रति बच्चे व्यय 6 लाख 50 हजार रूपये है। संवाद शुभाषीश कार्यक्रम में ऊर्जा मंत्री पारस जैन, सांसद डॉ. चिन्तामणि मालवीय, विधायक डॉ. मोहन यादव, अनिल फिरोजिया, बहादुर सिंह चौहान, उज्जैन विकास प्राधिकरण अध्यक्ष जगदीश अग्रवाल, सिंहस्थ मेला प्राधिकरण अध्यक्ष दिवाकर नातू भी उपस्थित थे।

About Author saloni

i am proffesniol blogger

No comments:

Post a Comment

Start typing and press Enter to search