रवि शास्त्री पर बिफरे अजहर, कहा यह ‘मूर्खतापूर्ण’ - .

Breaking

Wednesday, 11 January 2017

रवि शास्त्री पर बिफरे अजहर, कहा यह ‘मूर्खतापूर्ण’


नई दिल्ली: रवि शास्त्री की भारत के सर्वश्रेष्ठ कप्तानों की सूची को लेकर पूर्व कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन ने नाराजगी जाहिर की है। अजहर ने रवि शास्त्री के बयान को ‘मूर्खतापूर्ण’ बताया है। साथ ही उन पर क्रिकेट में योगदान देने वाले खिलाड़ियों का अपमान करने का भी आरोप लगाया है।
दरअसल, धोनी के वनडे कप्तानी छोड़ने के निर्णय के बाद टीम इंडिया के पूर्व डायरेक्टर रवि शास्त्री ने धोनी को ‘दादा कप्तान’ बताते हुए सर्वश्रेष्ठ कप्तानों की सूची जारी की थी। लेकिन गांगुली को सर्वश्रेष्ठ भारतीय कप्तानों की सूची में भी स्थान नहीं दिया था। इतना ही नहीं, इस सूची से पूर्व कप्तान अजहर को भी शामिल नहीं किया था। पूर्व क्रिकेटर शास्त्री ने कहा था, “इस मामले में धोनी के पीछे कपिल देव हैं जिनके नेतृत्व में भारत ने 1983 में वर्ल्डकप जीता और 1986 में इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज जीती। वनडे क्रिकेट के पहले वाले युग में अजित (वाडेकर) थे जिन्होंने 1971 में वेस्टइंडीज और फिर इंग्लैंड में लगातार टेस्ट सीरीज जीतीं। निश्चित रूप से अपने अलग स्टाइल के कारण टाइगर (पटौदी) भी हैं, बाकी कोई नहीं। पूर्व कप्तान ने कहा, “यह बहुत ही मूर्खतापूर्ण बात है। क्या वे आंकड़े नहीं देख सकते? यह मेरे लिए मायने नहीं रखता वह क्या सोचते हैं लेकिन जब शास्त्री सर्वश्रेष्ठ कप्तानों के बारे में संदर्भ दे रहे हों तो उन्हें अपने आंकलन में उन खिलाड़ियों का अपमान नहीं करना चाहिए जिन्हें भारतीय क्रिकेट में बहुत योगदान दिया है। श्रेष्ठ बल्लेबाजों मे शुमार अजहरुद्दीन ने भारत के लिए 99 टेस्ट मैच खेले हैं जिसमें 24 शतकों की मदद से 6000 से ज्यादा रन बनाए हैं। श्रीलंका के महान स्पिनर मुथैया मुरलीधरन ने शास्त्री की टिप्पणी पर प्रतिक्रिया लिए जाने पर गांगुली को सर्वश्रेष्ठ कप्तान बताया था। बंगाल क्रिकेट संघ के विजन 2020 कार्यक्रम के स्पिन गेंदबाजी सलाहकार मुरलीधरन ने कहा था, “निश्चित रूप से गांगुली ने कप्तानी संभालने के बाद भारतीय क्रिकेट के लिए बहुत अच्छी भूमिका निभाई. मेरे विचार में वह महान कप्तान थे। कांग्रेस की ओर से सांसद रहे टीम इंडिया के पूर्व कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन ने अब क्रिकेट प्रशासक बनने की ओर कदम बढ़ाया है। अजहर ने हैदराबाद क्रिकेट एसोसिएशन (HCA)के अध्यक्ष पद के लिए मंगलवार को नामांकन दाखिल किया। भारत के कामयाब कप्तानों में से एक अजहरुद्दीन को वर्ष 2000 में सामने आए मैच फिक्सिंग प्रकरण में कथित संलिप्तता के लिए बीसीसीआई ने आजीवन प्रतिबंधित किया था।

No comments:

Post a Comment

Pages