नागपुर में मिली टीम इंडिया को जीत - .

Breaking

Sunday, 29 January 2017

नागपुर में मिली टीम इंडिया को जीत


नागपुर: सलामी बल्लेबाज लोकेश राहुल के दमदार अर्धशतक के बाद तेज गेंदबाजों आशीष नेहरा और जसप्रीत बुमराह की धारदार गेंदबाजी की दम पर टीम इडिया ने दूसरे टी20 मैच में रोमांचक मुकाबले में इंग्लैंड को पांच रन से हराकर तीन मैचों की सीरीज 1-1 से बराबर कर ली। ऐसे में सीरीज का तीसरा मैच निर्णायक हो गया है जो बेंगलुरु में एक फरवरी को खेला जाएगा। इंग्लैंड को मैच जीतने के लिए आखिरी गेंद पर छह रन की जरूरत थी, लेकिन मोईन अली कोई करिश्मा नहीं कर पाए। इंग्लैंड की टीम 6 विकेट खोकर 20 ओवरों में 139 रन ही बना पाई।
अब सीरीज का आखिरी टी-20 एक फरवरी को बेंगलुरू में खेला जाएगा। बुमराह को बेहतरीन गेंदबाजी करने के लिए मैं ऑफ द मैच से नवाजा गया। इस जीत के साथ ही भारत ने नागपुर के इस मैदान पर हाल का सिलसिला तोड़ दिया और अपनी पहली जीत दर्ज की। भारत के 145 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए इंग्लैंड को अंतिम पांच ओवर में सिर्फ 41 रन की दरकार थी लेकिन नेहरा और बुमराह की उम्दा गेंदबाजी के सामने टीम छह विकेट पर 139 रन ही बना सकी।टीम की ओर से जो रूट और बेन स्टोक्स ने सर्वाधिक 38-38 रन बनाए। दोनों ने चौथे विकेट के लिए 52 रन भी जोड़े। जसप्रीत बुमराह जब अंतिम यानी 20वां ओवर करने आए तो इंग्लैंड को जीत के लिए आठ रन की जरूरत थी। इंग्लैंड के चार विकेट ही गिरे थे।अपनी यॉर्कर गेंदबाजी के लिए मशहूर बुमराह ने अपेक्षा के प्रदर्शन किया।बुमराह ने आखिरी ओवर में महज दो रन दिए और इंग्लैंड के जो रूट और जोस बटलर के रूप में इंग्लैंड के दो विकेट झटके। इस तरह से भारत 5 रन से मैच जीतने में कामयाब रहा।भारत की ओर से गेंदबाजी की शुरुआत स्पिनर युजवेंद्र चहल ने की. इस ओवर में सिर्फ दो रन बने लेकिन इस लेग स्पिनर के अगले ओवर में जेसन राय (10) और सैम बिलिंग्स (12) दोनों ने एक-एक छक्का मारा। अनुभवी तेज गेंदबाज नेहरा ने हालांकि चौथे ओवर की पहली दो गेंदों पर दोनों सलामी बल्लेबाजों को पवेलियन भेज दिया। नेहरा की शार्ट गेंद को पुल करने की कोशिश में बिलिंग्स ने लांग लेग पर बुमराह को कैच थमाया जबकि अगली गेंद राय के बल्ले उपरी किनारा लेकर मिड आन पर सुरेश रैना के हाथों में चली गई। भारतीय टीम की ओर से लोकेश राहुल ने (71) के जुझारू पारी खेली, यह इंग्लैंड के खिलाफ किसी भी भारतीय का टी-20 में सबसे बड़ा स्कोर है, इससे पहले 2007 में वीरेंद्र सहवाग ने 2007 में 68 रन बनाए थे। अमित मिश्रा टी-20 में आर अश्विन के बाद 200 विकेट लेने वाले दूसरे गेंदबाज बन गए हैं। आशीष नेहरा अंतर्राष्ट्रीय टी-20 मैचों में अश्विन के बाद 52 विकेट लेने वाले दूसरे गेंदबाज बन गए हैं। भारत ने टी-20 में दूसरी बार सबसे कम स्कोर 144 रन को सफलतापूर्वक बचाया है, इससे पहले पिछली साल जिम्बाम्बे में 138 रन के स्कोर को बचाया था।

No comments:

Post a Comment

Pages