[Latest News][6]

गैलरी
देश
राजनीति
राज्य
विदेश
व्यापार
स्पोर्ट्स
स्वास्थ्य

टी20 सीरीज का पहला मैच आज


कानपुर: इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट और वनडे सीरीज में विराट कोहली की अगुवाई वाली टीम इंडिया के शानदार प्रदर्शन के बीच दोनों देशों के बीच टी20 सीरीज गुरुवार से यहां प्रारंभ होने जा रही है। टी20 सीरीज का पहला मुकाबला कानपुर के ग्रीन पार्क में खेला जाएगा। जाहिर है, टेस्ट और वनडे के धमाकेदार प्रदर्शन के बाद टीम इंडिया विश्वास से भरी है लेकिन वह मेहमान टीम को कम करके आंकने को जोखिम नहीं ले सकती। टी20 के लिए चुनी गई भारतीय टीम में कई युवा खिलाड़ी शामिल हैं, लेकिन सबसे ज्यादा निगाह बाएं हाथ के जोरदार बल्लेबाज ऋषभ पंत (Rishabh Pant) पर टिकी होंगी। इसके पीछे कारण भी है, रणजी ट्रॉफी में जोरदार प्रदर्शन करने वाले दिल्ली के ऋषभ पंत ने इंग्लैंड के खिलाफ अभ्यास मैच में 36 गेंदों पर 59 रन की धमाकेदार पारी खेली थी, जिसमें आठ चौके और दो छक्के शामिल थे। अपनी इस पारी के बाद 19 साल के ऋषभ क्रिकेटप्रेमियों के आकर्षण का केंद्र बन गए हैं और बाएं हाथ के इस बल्लेबाज को प्लेइंग इलेवन में स्थान मिलने की उम्मीद लगाए हैं। भारत ने वनडे सीरीज की तुलना में टी20 के लिए अलग टीम चुनी है, इसमें युवा मनदीप सिंह, यजुवेंद्र चहल, और ऋषभ पंत के अलावा परवेज रसूल, सुरेश रैना और आशीष नेहरा जैसे खिलाड़ी भी शामिल हैं। स्टार स्पिनर रविचंद्रन अश्विन और रविंद्र जडेजा को विश्राम दिया गया है। जिन खिलाड़ियों को अभी टीम में अपनी जगह पक्की करनी है उनमें से सबसे ज्यादा ध्यान पंत ने खींचा है। उन्होंने घरेलू सत्र में शानदार प्रदर्शन के दम पर पहली बार राष्ट्रीय टीम में जगह बनाई है। दिल्ली के इस विकेटकीपर बल्लेबाज ने पिछले साल अंडर-19 वर्ल्डकप में भी बेहतरीन प्रदर्शन किया था। टी20 टीम में शिखर धवन के नहीं होने से लोकेश राहुल के साथ पंत और मनदीप सिंह में से किसी एक को पारी का आगाज करने के लिए चुना जा सकता है। पंत के हाल के शानदार प्रदर्शन को देखते हुए उन्हें मौका मिलने की संभावना ज्यादा है। मनदीप भी इंग्लैंड के खिलाफ पहले अभ्यास मैच में खेले थे लेकिन कोई खास प्रदर्शन नहीं कर पाए है। कप्तान विराट कोहली, युवराज सिंह और महेंद्र सिंह धोनी का तीसरे, चौथे और पांचवें नंबर पर बल्लेबाजी करना तय है और ऐसे में रैना को छठे नंबर के लिए मनीष पांडे से चुनौती मिल सकती है। शॉर्टर फॉर्मेट के शानदार बल्लेबाज रैना पर इसलिए भी दबाव है क्योंकि केदार जाधव जैसे खिलाड़ी लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं. जाधव ने वनडे सीरीज में अच्छी बल्लेबाजी की और उन्हें ‘मैन ऑफ द सीरीज’ चुना गया था। यह देखना दिलचस्प होगा कि कोहली गेंदबाजी में किस तरह के कांबिनेशनल के साथ उतरते हैं। तेज गेंदबाजी के ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या ने वनडे सीरीज में अपना प्रभाव छोड़ा था और उनकी उपस्थिति से टीम में संतुलन भी पैदा होता है। तेज गेंदबाजी का जिम्मा जसप्रीत बुमराह, भुवनेश्वर कुमार और उम्रदराज नेहरा पर रहेगा. नेहरा ने पिछले साल आईपीएल के बाद प्रतिस्पर्धी क्रिकेट नहीं खेली है, उन्होंने इसके बाद घुटने का ऑपरेशन करवाया था। स्पिन डिपार्टमेंट में देखना होगा कि कोहली कामचलाऊ स्पिनरों पर भरोसा दिखाते हैं या दो विशेषज्ञ स्पिनरों को लेकर उतरते हैं। उनके पास मिश्रा और चहल के रूप में लेग स्पिन के दो अच्छे विकल्प हैं जबकि परवेज रसूल (Parvez Rasool) टीम में शामिल एकमात्र ऑफ स्पिनर हैं। स्पिन गेंदबाजी में विविधिता के लिहाज से एक लेग स्पिनर और एक ऑफ स्पिनर को टीम में जगह मिल सकती है. वैसे भी रसूल के साथ प्लस पाइंट यह है कि वे अच्छी बल्लेबाजी भी कर लेते हैं। ओस से बचने के लिये मैच शाम चार बजकर 30 मिनट पर शुरू होगा और उम्मीद की जा रही है कि वनडे सीरीज की तरह इसमें भी रनों का अंबार लगेगा। मेहमान इंग्लैंड टीम के लिहाज से बात करें तो कोलकाता में तीसरे और अंतिम वनडे में जीत से उसके मनोबल में कुछ इजाफा हुआ है। टी20 सीरीज भी हालांकि वनडे की तरह काफी करीबी रहने की संभावना है। इंग्लैंड को सलामी बल्लेबाज जेसन रॉय से अच्छी शुरुआत की उम्मीद रहेगी जिन्होंने लगातार तीन अर्धशतक जमाए थे। कप्तान इयोन मोर्गन ने भी फॉर्म में वापसी कर ली है। गेंदबाजी डिपोर्टमेंट में तेज गेंदबाज जैक बॉल और डेविड विली ने टुकड़ों में अच्छा प्रदर्शन किया है और मोर्गन उनसे निरंतर ऐसे प्रदर्शन की उम्मीद कर रहे होंगे।

About Author Mohamed Abu 'l-Gharaniq

when an unknown printer took a galley of type and scrambled it to make a type specimen book. It has survived not only five centuries.

No comments:

Post a Comment

Start typing and press Enter to search