मप्र में प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना शुरू - .

Breaking

Sunday, 4 December 2016

मप्र में प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना शुरू

cm
भोपाल: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल में जन-कल्याणकारी योजनाओं के प्रशिक्षण कार्यक्रम में ग्रामीण अवासहीन के लिये प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना का लोकार्पण किया। गरीबी रेखा के नीचे जीवन-यापन करने वाले लोगों के लिये प्रदेश में वर्ष 2008 से मुख्यमंत्री ग्रामीण आवास योजना संचालित है, जिसमें अब तक छह लाख से अधिक आवासहीन को आवास दिया जा चुका है, जबकि इंदिरा आवास योजना का लाभ लगभग 10 लाख जरूरतमंद ले चुके हैं।
प्रधानमंत्री शहरी आवास योजना में वर्ष 2022 तक सभी आवासहीन को अपना घर मुहैया करवाने का लक्ष्य तय किया गया है। मुख्यमंत्री की पहल पर शहरी क्षेत्रों में आवासहीन के लिये 40 हजार से अधिक पक्के मकान बन चुके हैं। प्रशिक्षण कार्यक्रम में लोगों को विभिन्न आवास योजना, सम्पर्क कैसे और किससे करें, नियम, ऋण अनुदान मार्जिन मनी सुविधाएँ आदि की विस्तृत जानकारी दी गयी। मुख्यमंत्री ने योजना के कुछ हितग्राही नत्थू तेजभान, पदम सिंह आदि को योजना के चेक भी प्रदान किये। चौहान के मुख्यमंत्रित्व काल के 11 वर्ष पूर्ण होने पर एक अभिनव पहल की गयी। रक्ताल्पता अर्थात एनीमिया दूर करने के लिये बालिकाओं और महिलाओं को आयरन फॉलिक एसिड की गोली खिलाकर लालिमा अभियान का शुभारंभ किया। महिला-बाल विकास मंत्री अर्चना चिटनिस की पहल पर प्रारंभ हुआ यह अभियान सम्पूर्ण प्रदेश में मिशन मोड पर संचालित किया जायेगा। उल्लेखनीय है कि एनीमिया कुपोषण का एक प्रमुख कारण है। रक्त में आयरन की कमी से हीमोग्लोबिन की कमी होती है, जो कुपोषण की स्थिति निर्मित करती है। यदि माँ एनिमिक है तो बच्चा भी कम वजन का और कमजोर होगा। एनीमिया निदान के लिये किशोरी बालिकाओं और महिलाओं को आयरन और विटामिन-सी की खुराक उपलब्ध करवायी जायेगी। इसके लिये आयुर्वेद एवं होम्यापैथिक औषधियों की उपलब्धता भी सुनिश्चित की जायेगी। अभियान में स्कूल शिक्षा, उच्च शिक्षा, पंचायत एवं ग्रामीण विकास, नगरीय विकास, आयुष, उद्यानिकी, वन तथा स्वास्थ्य विभाग के मैदानी अमले के साथ मिलकर महिला-बाल विकास विभाग यह अभियान संचालित करेगा। भोपाल में प्रदेशभर से आये लोगों को एक साथ जन-कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी गई।

No comments:

Post a Comment

Pages