शिवराज ने विदिशा में किया निर्माण कार्यो का लोकार्पण और शिलान्यास - .

Breaking

Thursday, 8 December 2016

शिवराज ने विदिशा में किया निर्माण कार्यो का लोकार्पण और शिलान्यास

cm
भोपाल: बडे नोट बंद करने का फैसला आतंकवाद, काले धन और भ्रष्टाचार रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा लिया गया ऐतिहासिक फैसला है। इस फैसले के कारण ईमानदार लोगो को परेशान होने की जरूरत नहीं है। उनकी गाढ़ी कमाई का हर नोट बदला जा रहा है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने यह बात विदिशा में 234 करोड़ 59 लाख रूपए लागत के विकास कार्यों के भूमि-पूजन तथा लोकार्पण समारोह में कही।
मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारे पड़ोसी देश द्वारा बड़ी संख्या में नकली नोट भेजे जा रहे थे। यह स्थिति देश की अर्थ-व्यवस्था के लिए घातक थी। मुख्यमंत्री ने प्रदेश की जनता से अपील की है कि वह कैशलेस अर्थ-व्यवस्था अपनायें। मुख्यमंत्री ने बताया कि फसल बीमा योजना में अकेले विदिशा जिले में एक लाख से अधिक किसानों के खातों में 576 करोड़ रूपए की राशि जमा करवाई जा रही है। राशि सोयाबीन फसल के खराब होने पर दी जा रही है। उन्होंने कहा कि किसानों के साथ-साथ शहरी क्षेत्रों में रहने वाले गरीबों के कल्याण के लिए सरकार प्रतिबद्ध है। शहरी क्षेत्र में रहने वाले गरीब परिवारों को एक रूपए किलो गेहूँ और चावल दिया जा रहा है। आवासहीन गरीब परिवारों को मकान बनाने के लिए जमीन देने व मकान बनाकर देने का कार्य योजनाबद्व तरीके से किया जा रहा है। चौहान ने बताया कि मुख्यमंत्री कन्यादान योजना में अब वर-वधु को शासन की और से मिलने वाले उपहारों में स्मार्ट फोन को भी शामिल किया जा रहा है। शासन की मंशा है कि नव-विवाहित वर-वधु स्मार्ट फोन के माध्यम से कैशलेस तरीके से सामान की खरीदी करें। चौहान ने विदिशा जिले के प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में कम से कम एक सामूहिक विवाह कार्यक्रम करवाने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं। उन्होंने स्वच्छ विदिशा-अपना विदिशा का संकल्प उपस्थित जनसमुदाय को दिलाया। मुख्यमंत्री विदिशा प्रवास के दौरान बरईपुरा के हाई स्कूल में संचालित निःशुल्क कोचिंग प्राप्त कर रहे विद्यार्थियों से रू-ब-रू हुए। उन्होंने छात्र-छात्राओं से कहा कि वे खूब मन लगाकर पढ़ाई करें शासन उनकी मदद करेगा। मुख्यमंत्री ने विद्यार्थियों का हौसला अफजाई करते हुए कहा कि वे विभिन्न प्रतियोगिताओं में चयनित होकर विदिशा का नाम गौरवान्वित करें। उन्होंने नगरपालिका और जिला प्रशासन द्वारा संचालित निःशुल्क कोचिंग की अभिनव पहल की सराहना की। कोचिंग में विशेषज्ञों द्वारा प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करवाई जा रही है। इसमें लगभग 1500 बच्चे प्रतियोगी परीक्षाओं के संबंध में होने वाली दिक्कतों का सरल तरीके से उपाय जान रहे हैं। विगत एक वर्ष में कोचिंग में अध्ययन कर रहे छात्र-छात्राएँ विभिन्न प्रतियोगी परीक्षा में सफल हुए हैं। मुख्यमंत्री जैसे ही कोचिंग पहुँचे उन्होंने बच्चियों के सर पर हाथ फेरा तो भवावेश में आकर बच्चियों ने अपने-अपने मोबाइल से सेल्फी लेना शुरू कर दिया। कोचिंग में पढ़ रही कु. रीना कुशवाह ने बेंच पर चढ़कर मुख्यमंत्री के साथ फोटो खिचवाईं। इस मौके पर उद्यानिकी एवं खाद्य प्र-संस्करण (स्वतंत्र प्रभार) राज्यमंत्री सूर्यप्रकाश मीणा, जिला पंचायत अध्यक्ष तोरण सिंह दांगी, नगरपालिका अध्यक्ष मुकेश टण्डन, विधायक कल्याण सिंह ठाकुर, वीर सिंह पंवार समेत जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।

No comments:

Post a Comment

Pages