ट्विटर पर भिड़े कुमार विश्वास और रिजिजू - .

Breaking

Tuesday, 13 December 2016

ट्विटर पर भिड़े कुमार विश्वास और रिजिजू

minister
नई दिल्ली: अरुणाचल प्रदेश में एक बड़े हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट के लिए बनने वाले 2 बांध में 450 करोड़ रुपए के घोटाले में नाम आने के बाद से ही केंद्रीय गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू पर विरोधियों ने हमले तेज कर दिए है। कांग्रेस के बाद आम आदमी पार्टी भी रिजिजू पर हमला बोला। आम आदमी पार्टी के नेता और कवि कुमार विश्वास ने ट्विटर के जरिए रिजिजू पर जमकर हमला बोला। वहीं रिजिजू ने भी ट्विटर के जरिए उनको जवाब दिए।
कुमार विश्वास ने रिजिजू की तुलना रॉबर्ड वाड्रा से करते हुए ट्वीट किया कि कांग्रेस से बीजेपी ये सिर्फ एक यात्रा है जीजू से रिजिजू की। रिजिजू ने भी ट्वीट के जरिए जवाब देत हुए कहा कि सबकुछ कांग्रेस के शासनकाल में हुआ। दोनों के बीच ट्विटर पर जमकर बहस हुई। रिजिजू ने आगे कुमार विश्वास से कहा कि मैंने सोचा कि आप सच्चे व्यक्ति हैं। लेकिन दुख की बात है आप नहीं हैं. मेरे साथ आओ और मैं आपको बताऊंगा कि कैसे कांग्रेस ने जनता को लूटा। रिजिजू को जवाब देते हुए कुमार ने ट्वीट किया कि मैं आपको अभी भी सच्चा मानता हूं। हम मिलते है और शेयर करते हैं कि दोनों पार्टियों (बीजेपी-कांगेस) ने कैसे लूटा। विश्वास ने आगे कहा कि ईश्वर करे आप का कहा सत्य हो, लेकिन जांच करेगा कौन? बंधक सीबीआई? आइए हम दोनों केंद्रीय व दिल्ली के लंबित लोकपाल बिल को पास कराएं। इन आरोपों के संबंध में सार्वजनिक उपक्रम की कंपनियों के चीफ विजिलेंस अफसर सतीश वर्मा ने रिजिजू, उनके चचेरे भाई और ठेकेदार गोबोई रिजिजू, नॉर्थ ईस्टर्न इलेक्ट्रिक पॉवर कॉरपोरेशन के मैनेजिंग डायरेक्टर और कॉरपोरेशन के कई अफसरों के खिलाफ 129 पन्नों की रिपोर्ट सीवीसी, सीबीआई और ऊर्जा मंत्रालय को भेजी है। हालांकि रिजिजू ने आरोपों से साफ इनकार किया है और कहा है कि जो न्यूज प्लांट कर रहे हैं, हमारे यहां आएंगे तो जूते खाएंगे। क्या लोगों की सेवा करना भ्रष्टाचार है? रिजिजू का कहना है कि उन्होंने एक स्थानीय ठेकेदार की अर्जी पर ऊर्जा मंत्रालय को खत लिखा था। लेकिन उन्हें किसी घोटाले की जानकारी नहीं है। अगर कोई घोटाला हुआ है तो उसकी गहराई से जांच की जाए।

No comments:

Post a Comment

Pages