[Latest News][6]

गैलरी
देश
राजनीति
राज्य
विदेश
व्यापार
स्पोर्ट्स
स्वास्थ्य

राजकोट टेस्ट में इंग्लैंड के नाम रहा पहला दिन

rajkol
राजकोट: राजकोट में भारत और इंग्लैंड के बीच खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच के पहले दिन का खेल खत्म होने तक इंग्लैंड ने चार विकेट नुकसान पर 311 रन बना लिए हैं। इंग्लैंड की तरफ से जो रूट ने शानदार 124 रनों की शतकीय पारी खेली. ये भारत की धरती पर रूट का पहला शतक है। इसके अलावा मोइन अली (99) और बेन स्टोक्स (19) रन बनाकर नॉटआउट रहे। भारत की तरफ से आर अश्विन ने दो, उमेश यादव और रवींद्र जडेजा ने एक-एक विकेट झटका।
इस मुकाबले में कैप्टन कुक ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। इंग्लैंड कि पारी की शुरुआत कप्तान एलिस्टर कुक और पहली बार अंतरराष्ट्रीय टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू कर रहे हसीब हमीद ने की। दोनों बल्लेबाजों ने पहले विकेट के लिए 47 रन जोड़े। कप्तान कुक (21) के स्कोर पर स्पिन गेंदबाज रवींद्र जडेजा के शिकार बने। कुक के आउट होने के बाद पहला टेस्ट मैच खेल रहे इंग्लैंड के युवा बल्लेबाज हसीब हमीद ने जरूर जमने की कोशिश की। उन्होंने मैदान पर कुछ बेहतरीन शॉट्स भी खेले। लेकिन वो अपनी इस पारी को ज्यादा आगे नहीं बढ़ा सके। हमीद (31) के स्कोर पर अपना विकेट दे बैठे। उन्हें आर अश्विन ने पवेलियन की राह दिखाई। इंग्लैंड के तीन विकेट (102) के स्कोर पर निकल चुके थे। बेन डकेट को (13) के स्कोर पर अश्विन ने पवेलियन भेजा। टॉप ऑर्डर के जल्दी निपटने के बाद इंग्लैंड की पारी को जो रूट और मोइन अली ने संभाला। दोनों बल्लेबाजों ने बड़े संभालकर भारतीय गेंदबाजों का सामना किया। रूट और अली के बीच चौथे विकेट के लिए बेहतरीन (179) रनों की साझेदारी हुई। रूट ने अपने टेस्ट करियर का 10 वां शतक लगाया। ये एशियाई धरती पर उनका पहला शतक था और भारत के खिलाफ तीसरा शतक था। रूट ने (124) रनों की बेहतरीन पारी खेलकर आउट हुए। उन्होंने अपनी इस पारी में 11 चौके और एक छक्का लगाया। मोइन अली एक बार फिर से भारतीय गेंदबाजों के लिए रोड़ा बने। रूट के आउट होने के बाद अली एक छोर पर जमे रहे। वो (99) के स्कोर पर नॉटआउट लौटे और बेन स्टोक्स (19) रन बनाकर नॉटआउट रहे। अली अपने चौथे टेस्ट शतक से सिर्फ एक रन दूर हैं । भारतीय टीम साल 2008 के बाद से इंग्लैंड को नहीं हरा पाई है। पिछली बार इंग्लैंड ने 2012 में भारत का दौरा किया था और उसके स्पिनरों ने भारतीय बल्लेबाजों को खूब परेशान किया था। इंग्लैंड ये सीरीज 2-1 से जीत में कामयाब रहा था। वैसे टीम इंडिया ने इंग्लैंड के खिलाफ आखिरी टेस्ट सीरीज साल 2014 में इंग्लैंड में ही खेली थी, जिसमें इंग्लैंड ने भारत को 3-1 से हराया था। भारत और इंग्लैंड के बीच खेली जा रही यह सीरीज भारतीय धरती पर पहली ऐसी टेस्ट सीरीज है, जिसमें डीआरएस का इस्तेमाल किया जा रहा है। बीसीसीआई इस लागू करने से लगातार पीछे हटता रहा है। भारत ने आखिरी बार 2008 में श्रीलंका के खिलाफ उसकी सरजमीं पर डीआरएस का इस्तेमाल किया था।

About Author saloni

i am proffesniol blogger

No comments:

Post a Comment

Start typing and press Enter to search