शहीद हेड कॉन्स्टेबल को सीएम शिवराज ने दिया कंधा - .

Breaking

Wednesday, 2 November 2016

शहीद हेड कॉन्स्टेबल को सीएम शिवराज ने दिया कंधा

शहीद हेड कॉन्स्टेबल को सीएम शिवराज ने दिया कंधा

pp
भोपाल: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शहीद रमाशंकर यादव के निवास जाकर उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित किये और अर्थी को कंधा दिया। उनके परिजनों को ढाँढस बँधाया और कहा कि पूरा प्रदेश परिवार के साथ है। भोपाल सेंट्रल जेल के प्रधान प्रहरी यादव गत दिवस सिमी के आठ आतंकियों को भागने से रोकते हुए शहीद हो गये।
मुख्यमंत्री ने शहीद रमाशंकर के परिवार को ढाँढस बँधाते हुए कहा कि उन्होंने अपने कर्त्तव्य के निर्वहन में बलिदान दिया है। उनकी शहादत बेकार नहीं जायेगी। उनके परिवार की चिंता सरकार और पूरा प्रदेश करेगा। उन्हें किसी तरह की तकलीफ नहीं होगी। उनकी हरसंभव मदद की जायेगी। चौहान ने कहा कि उनके लिये जनता और देश की सुरक्षा सर्वोपरि है। इसमें किसी तरह की राजनीति नहीं होनी चाहिये। मुख्यमंत्री ने बड़े भावुक मन से कहा कि शहीद यादव की शहादत से पूरा प्रदेश दुखी है। उन्होंने दोहराया कि पाँच लाख रूपये उनकी बेटी की शादी के लिये सहायता राशि दी जायेगी और जिस कालोनी में उनका निवास है उसका नाम शहीद रमाशंकर यादव कालोनी होगा। उनकी प्रतिमा भी स्थापित की जायेगी। जेल मंत्री कुसुम मेहदेले, सहकारिता राज्य मंत्री विश्वास सारंग, प्रमुख सचिव जेल विनोद सेमवाल, महानिदेशक जेल संजय चौधरी, भोपाल कमिश्नर अजातशत्रु, आईजी पुलिस योगेश चौधरी एवं वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे। मुख्यमंत्री ने मप्र स्थापना दिवस समारोह में भोपाल सेंट्रल जेल से भागे सिमी के खतरनाक आतंकियों का खात्मा करने के लिये पुलिस का अभिनंदन किया। मुख्यमंत्री ने जनता की सुरक्षा करते हुए शहीद होने वाले पुलिसकर्मियों के लिये श्रद्धानिधि बढ़ाकर 25 लाख रूपये करने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि बढ़ी हुई निधि शहीद रमाशंकर यादव के परिवार को भी दी जायेगी। इस परिवार की बेटी पूरे प्रदेश की बेटी है। उसकी शादी सब मिलकर करेंगे। उन्होंने सिमी आतंकियों से मुठभेड़ में भाग लेने वाले प्रत्येक जवान को दो लाख रूपये की सम्मान निधि और सर्चिंग में शामिल जवान को एक लाख रूपये की सम्मान निधि से सम्मानित किया जायेगा। मुख्यमंत्री ने पुलिस का सहयोग करने वाले नागरिकों को 40 लाख रूपये देने की घोषणा की। यह राशि इन नागरिकों में बराबर-बराबर बाँटी जायेगी।

No comments:

Post a Comment

Pages