[Latest News][6]

गैलरी
देश
राजनीति
राज्य
विदेश
व्यापार
स्पोर्ट्स
स्वास्थ्य

नाभा जेल पर हमला करने वालों में से एक यूपी के शामली से गिरफ्तार

nabha-jail
चंडीगढ़: पंजाब की नाभा जेल पर हमला करने वाले बंदूकधारियों में से एक को उत्तर प्रदेश के शामली में गिरफ्तार कर लिया गया है। परविंदर नामक इस अपराधी के पास से काफी मात्रा में हथियार भी बरामद हुआ है। पुलिस के मुताबिक परमिंदर के खिलाफ पहले से कई केस दर्ज हैं। पुलिस अब उससे पूछताछ कर उसके बाकी साथियों और उनके ठिकानों का पता करने में जुटी है।
उप्र के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कानून-व्यवस्था) दलजीत सिंह चौधरी ने बताया कि शामली में तलाशी के दौरान परमिंदर की टोयोटा फॉर्च्यूनर गाड़ी से एक सेल्फ-लोडिंग राइफल (एसएलआर), तीन राइफल और कई अन्य हथियार बरामद किए गए। करीब 10 बंदूकधारी रविवार सुबह नाभा जेल पर हमला कर आतंकी संगठन खालिस्तान लिबरेशन फोर्स (केएलएफ) के सरगना हरमिंदर सिंह मिंटू और पांच अन्य अपराधियों को भगा ले गए। इस हमले में दो पुलिसवाले घायल हो गए। जिस वक्त हमला हुआ उस समय जेल में रात की ड्यूटी बदल रही थी और सुबह की शिफ्ट चार्ज ले रही थी। चश्मदीदों के मुताबिक हमलावर बड़ी गाड़ियों में आए थे। इनमें से कुछ पुलिस की वर्दी में थे। इनकी गाड़ियों की डिक्की में हथियार रखे हुए थे। ये लोग फायरिंग करते हुए अंदर घुसे और फिर कैदियों को लेकर फरार हो गए। पंजाब सरकार ने फरार कैदियों का सुराग देने वालों को 25 लाख रुपये इनाम देने की घोषणा की है। एक स्पेशल टास्क फोर्स द्वारा मामले की जांच शुरू कर दी गई है।गृह मंत्रालय ने पंजाब सरकार से इस संबंध में रिपोर्ट मांगी है। इस वारदात के बाद पंजाब सरकार ने राज्य के एडीजी (जेल) को सस्पेंड कर दिया है और जेल अधीक्षक और उपाधीक्षक को बर्खास्त कर दिया है। पुलिस ने राज्य में हाई अलर्ट जारी कर फरार कैदियों की धरपकड़ के लिए तलाशी अभियान शुरू किया है। इसके अलावा पड़ोसी राज्य हरियाणा और हिमाचल प्रदेश को भी अलर्ट पर रखा गया है। इस बीच पटियाला-गुल्हा चीका सड़क पर पुलिस का सुरक्षा बैरिकेड तोड़कर भागने की कोशिश कर रहे वाहन पर पुलिस की गोलीबारी से एक महिला की मौत हो गई। पंजाब सरकार ने इस घटना की जांच के लिए एक एसआईटी भी बनाया है। सरकार ने अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) जगपाल सिंह संधू की अध्यक्षता में एक अलग जांच समिति बनाई है जो सुरक्षा में हुई चूक के पहलू की छानबीन करेगी। पंजाब के पुलिस महानिदेशक ने कहा कि जेल के भीतर से भी गोलीबारी हुई। हमें देखना होगा कि गोलीबारी प्रभावी क्यों नहीं थी। उन्होंने कहा कि कहीं न कहीं कोई साजिश तो है और यदि गोलीबारी प्रभावी रही होती, तो पूरा घटनाक्रम ही उलट होता। उधर विपक्षी कांग्रेस ने कहा कि इस घटना से राज्य में पूरी तरह चरमरायी कानून व्यवस्था की स्थिति बेनकाब हुई है और उसने विधानसभा चुनाव से पहले आतंकवाद के सिर उठाने की आशंका भी व्यक्त की. पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा, ‘ये जेल ब्रेक हुई है और मैं दावा करता हूं कि इसमें (पंजाब) सरकार का हाथ है। वहीं केंद्र ने इस घटना पर राज्य सरकार से रिपोर्ट मांगी है। कई आतंकी वारदातों में शामिल होने के आरोपी 47 वर्षीय मिंटू को नवंबर 2014 में दिल्ली एयरपोर्ट से गिरफ्तार किया गया था। उसे 2008 में सिरसा स्थित डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह पर हुए हमले तथा 2010 में हलवाड़ा वायुसेना स्टेशन में विस्फोटक मिलने सहित 10 मामलों के सिलसिले में गिरफ्तार किया गया था।

About Author saloni

i am proffesniol blogger

No comments:

Post a Comment

Start typing and press Enter to search